Breaking News
जॉन अब्राहम ने कहा पहले असफलता से डरता था, लेकिन अब कोई डर नहीं         ||           सेंसेक्स 147 अंक की गिरावट पर बंद         ||           सरकार ने गन्ने का समर्थन मूल्य 255 से बढाकर 275 रुपये प्रति क्विंटल किया         ||           वायु सेना का मिग-21 एयरक्राफ्ट हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में दुर्घटनाग्रस्त         ||           इंग्लैंड के खिलाफ पहले तीन टेस्ट मैचों के लिए भारतीय टीम की घोषणा         ||           अविश्वास प्रस्ताव पर विपक्षी एकता के खिलाफ एनडीए सरकार की होगी पहली परीक्षा         ||           इमरान की पार्टी को आतंकी संगठन ने दिया समर्थन         ||           आरएलएलपी ने बीजेपी से बिहार में जदयू से अधिक सीटें और एनडीए नेता का पद मांगा         ||           पहलवान साजन ने जूनियर एशियाई चैंपियनशिप में जीता स्वर्ण         ||           कप्तान विराट कोहली ने कहा बल्लेबाज रहे हार की वजह         ||           राहुल गांधी ने भाजपा से पूछा, वो कौन है जो कमजोरों को तलाशकर कुचल देता है         ||           ग्रेटर नोएडा में इमारत गिरने से तीन की मौत         ||           संसद का मानसून सत्र आज से         ||           शेयर बाजार के शुरूआती कारोबार में तेजी का असर         ||           इंग्लैंड ने फिर पकड़ा जीत वाला रुट, भारत को 8 विकेट से हराकर सीरीज 2-1 से जीती         ||           कोहली और धोनी ने खेली जुझारू पारी, भारत ने इंग्लैंड को दिया 257 का लक्ष्य         ||           आज का दिन : कानन देवी         ||           शी जिनपिंग के पोस्टर पर स्याही फेंकने वाली चीनी महिला गिरफ्तार         ||           चुनाव आयोग ने लाभ का पद मामले में आप विधायकों को याचिकाकर्ता से जिरह करने की अनुमति नहीं दी         ||           स्वामी अग्निवेश पर भाजपा कार्यकर्ताओं का हमला         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> आतंकवाद से निबटने की प्रतिबद्धता के साथ समाप्त हुआ'हार्ट ऑफ एशिया' सम्मेलन

आतंकवाद से निबटने की प्रतिबद्धता के साथ समाप्त हुआ'हार्ट ऑफ एशिया' सम्मेलन


Vniindia.com | Thursday December 10, 2015, 07:55:36 | Visits: 437







इस्लामाबाद 10 दिसम्बर(वीएनआई ) आतंकवाद को समाप्त करने और और अफगानिस्तान में स्थायित्व लाने के लिए लिये आर्थिक सहयोग को प्रोत्साहित करने की सदस्य देशों की प्रतिबद्धता के साथ कल(बुधवार) पांचवा 'हार्ट ऑफ एशिया' सम्मेलन का समाप्त हो गया। इस दो दिवसीय बहुपक्षीय सम्मेलन में 14 सदस्य देशों, 17 सहयोगी राष्ट्रों के मंत्री तथा 12 संगटनों के पदाधिकारी शामिल हुए। सम्मेलन में इस्लामाबाद घोषणापत्र को स्वीकृति दी गई जिसमें सभी अफगान तालिबान समूहों से बातचीत की प्रक्रिया में शामिल होने का आवाहन किया गया है
दूसरी तरफ सुषमा स्वराज ने कल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मुलाकात की. करीब पौने दो घंटे चली इस बैठक के बाद सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत और पाकिस्तान समग्र वार्ता के लिए तैयार हो गए हैं.सम्मेलन से अलग आयोजित इस बैठक में पाक विदेश मंत्री सरताज अजीज भी मौजूद रहे.
इससे पूर्व भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले साल पाकिस्तान का दौरा करेंगे।सुषमा ने कल यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि मोदी दक्षिण एशिया क्षेत्रीय सहयोग संगठन (दक्षेस) शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।'जियो टीवी' की रिपोर्ट के मुताबिक, सुषमा ने कहा कि मोदी के इस दौरे में वह भी उनके साथ होंगी। उल्लेखनीय है कि इसी साल जुलाई में उफा (रूस) में शंघाई सहयोग संगठन की बैठक के मौके पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने मोदी को दक्षेस सम्मेलन में आने का न्योता दिया था जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया था।
जनवरी 2004 में अटल बिहारी वाजपेयी की यात्रा के बाद यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पाकिस्तान की पहली यात्रा होगी। वाजपेयी भी दक्षेस सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान गए थे, सुषमा हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में भाग लेने के लिए इस्लामाबाद में हैं।सुषमा स्वराज ने कहा कि वह गुरुवार को भारतीय संसद में इस मुद्दे और पाकिस्तान दौरे पर अपना बयान देंगी
भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ से इस्लामाबाद में मुलाक़ात की है और विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अज़ीज़ के साथ विभिन्न मुद्दों पर विचार विमर्श किया है.
मुलाक़ात और विचार-विमर्श के बाद भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों की तरग्फ से जारी एक संयुक्त बयान मे कहा गया है कि भारत-पाक संयुक्त बयान मे दोनों पक्ष व्यापक द्विपक्षीय संवाद के लिए तैयार हो गए हैं तथा दोनों देशों के विदेश सचिव इसकी तारीख़ और रूपरेखा तय करेंगे.
इसके अतिरिक्त दोनों पक्ष जम्मू कश्मीर, सियाचिन, सर क्रीक, तुलबुल परियोजना, आर्थिक और वाणिज्यिक सहयोग, चरमपंथ के खिलाफ़ कार्रवाई, मादक पदार्थों की रोकथाम और मानवीय मुद्दों पर संवाद करेंगे.
भारत और पाकिस्तान दोनों पक्षों ने ही चरमपंथ की आलोचना की है और बैंकॉक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की मुलाक़ात को सफल बताया है.
इसके अलावा भारतीय पक्ष को भरोसा दिलाया गया है कि मुंबई हमलों के मामले में जारी अदालती कार्यवाही जल्द से जल्द पूरी की जाएगी

Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें