Breaking News
भारतीय हॉकी टीम ने चैंपियंस ट्रॉफी के पहले मैच में पाकिस्तान को 4-0 से हराया         ||           आईएएस पहली बार ले रहे है फि्ल्म सराहने का प्रशिक्षण         ||           अमित शाह ने कहा बीजेपी में सरकार गिरने पर 'भारत माता की जय' के नारे लगाते हैं         ||           अखिलेश यादव की सरकारी बंगले में तोड़फोड़ मामले में बढ़ सकती हैं मुश्किलें         ||           राफेल नडाल विंबलडन के लिए आत्मविश्वास से भरपूर         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा शिवराज सरकार ने विकास की नई गाथा लिखी         ||           बातें फुटबॉल वर्डकप की         ||           क्या सेशल्स बहाल करेगा भरोसा?         ||           चिदंबरम ने कहा राहुल को जेहादियों, नक्सलियों से सहानुभूति रखने वाला बताना गलत         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने मप्र में सिंचाई परियोजना का डिजिटल लोकार्पण किया         ||           भाजपा अध्यक्ष अमित शाह जम्मू पहुंचे         ||           आज का दिन :         ||           प्रधानमंत्री मोदी भोपाल पहुंचे         ||           सुनिधि ने कहा रियलिटी शो की सफलता प्रतियोगियों पर निर्भर         ||           प्रधानमंत्री मोदी आज मध्य प्रदेश दौरे पर         ||           मेक्सिको फीफा विश्व कप के अंतिम-16 में प्रवेश करना चाहेगा         ||           दक्षिण कोरिया के साथ अमेरिका का संयुक्त सैन्याभ्यास रद्द         ||           रूस और दक्षिण कोरिया ने सहयोग बढ़ाने की प्रतिबद्धता जताई         ||           राष्ट्रपति कोविंद का क्यूबा से विकासशील देशों को सशक्त बनाने का आह्वान         ||           ओपेक बैठक के बाद तेल की कीमतें बढ़ी         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> खुशखबरी! एक हिंदुस्तानी ने विकसित कर ली है वाई-फ़ाई से भी तेज़ इंटरनेट तकनीक

खुशखबरी! एक हिंदुस्तानी ने विकसित कर ली है वाई-फ़ाई से भी तेज़ इंटरनेट तकनीक


Vniindia.com | Saturday November 28, 2015, 12:11:06 | Visits: 567







नई दिल्ली 28 नवंबर(वीएनआई) खुशखबरी! अब डेटा ट्रांसफर के लिए वाई-फ़ाई के विकल्प मे एक ऐसी तकनीक आ चुकी है जो वाई-फ़ाई के मुक़ाबले 100 गुना तेज़ है. जहा एक ओर 1997 मे शुरु हुआ "वाईफ़ाई" वायरलेस नेटवर्किंग प्रोटोकॉल की डेटा ट्रांसफर की स्पीड 2 मेगाबाईट पर सेकंड है वहीं लाई-फ़ाई की स्पीड 1 गीगाबाईट पर सेकंड होगी, सबसे बड़ी बात है कि इस तकनीक को विकसित करने वाले तकनीशियन स्टार्टअप कंपनी वेलमेनी के सह संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक सोलंकी भारतीय हैं. लाई-फ़ाई का इसी सप्ताह एस्तोनिया के टालिन में परीक्षण किया गया.
लाई-फ़ाई से वाई-फ़ाई के मुक़ाबले आप 100 गुना तेज़ इंटरनेट चला सकते हैं और इसकी रफ़्तार एक गीगाबिट प्रति सेकेंड तक हो सकती है.बताया जा रहा है क़ी यह तकनीक तीन से चार साल में उपभोक्ताओं तक पहुंच जाएगी.
प्राप्त जानकारी के अनुसार लाई-फ़ाई के इस्तेमाल के लिए मोबाइल पर एक डिवाइस लगानी होगी पर भविष्य में यह वाई-फ़ाई और ब्लूटूथ की तरह मोबाइल में ही इनबिल्ट होगी.केवल बिजली का एक स्रोत जैसे एलईडी बल्ब, इंटरनेट कनेक्शन और एक फ़ोटो डिटेक्टर से लाई-फ़ाई चलाया जा सकेगा .

Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें